32 साल बाद पार्टी की कमान फिर युवा हाथों में

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को पार्टी अध्यक्ष बना दिया गया है । इसके साथ ही  उन्हें  पार्टी अध्यक्ष चुना  गया है । राहुल के अलावा किसी ने घोषित तौर पर पर्चा नहीं भरा है। राजीव गांधी 1985 में 41 साल की उम्र में अध्यक्ष बने थे। परिवार में जवाहरलाल नेहरू सबसे कम 40 साल तो मोतीलाल नेहरू सबसे ज्यादा 58 की उम्र में अध्यक्ष बने थे। सोनिया सबसे ज्यादा 19 साल अध्यक्ष रहीं।

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के हाथों में पार्टी की कमान ऐसे समय आ रही है जब वह अपने सबसे बुरे दौर से गुजर रही है. इतिहास गवाह है कि नेहरू-गांधी परिवार से जो भी अध्यक्ष बना उसने पार्टी के आगे बढ़ाया ही है, अब राहुल पर इस रिकॉर्ड को बनाए रखने की चुनौती होगी.

Comments are closed.

Language
%d bloggers like this: