आखिर चीन मोदी को पाक आतंकवाद के मुद्दे को उठने से नहीं रोक पाया

BRICS में बिजनेस काउंसिल को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि सभी देशों को आतंकवाद के खिलाफ मिलकर लड़ना होगा. हम सभी को आतंकवाद से लड़ने के लिए नए कदम उठाने होंगे. मोदी ने कहा कि हम मजबूत अंतरराष्ट्रीय संबंधों के साथ आगे बढ़ना चाहते हैं. पीएम ने अपने भाषण में सबका साथ-सबका विकास की बात की. पीएम बोले कि हमारे लिए आतंकवाद, साइबर सुरक्षा और आपदा प्रबंधन से लड़ने को तैयार होना होगा.ब्रिक्स समिट के दोनों दिनों ने पीएम मोदी ने हर मंच पर आतंकवाद का मुद्दा उठाया. समिट शुरू होने से पहले चीन ने कहा था कि पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवाद पैर कोई चर्चा नहीं होगी , लेकिन पीएम मोदी के सामने चीन की एक ना चली. और हर मुद्दे पर आतंकवाद, चीन और पाकिस्तान को करारा जवाब मिला.

इससे पहले ब्रिक्स श्यामन 2017 के घोषणापत्र में आतंकवाद का जिक्र किया गया है. इस घोषणापत्र में लश्कर-ए-तयैबा, जैश-ए-मोहम्मद समेत कुल 10 आतंकी संगठनों का जिक्र है.हम लोग दुनिया भर में हुए आतंकी हमलों की कड़ी निंदा की आतंकवाद को किसी भी तरह से स्वीकार नहीं किया जा सकता है. सभी ब्रिक्स देश आतंकवाद के खिलाफ मिलकर लड़ेंगे.

Comments are closed.

Language
%d bloggers like this: