अंबाला एयरबेस पर लैंड हुए पांचों राफेल

भारतीय वायुसेना को काफी लंबे वक्त से जिस लड़ाकू विमान का इंतजार था, वो राफेल विमान आज भारत पहुंच गए हैं। राफेल लड़ाकू विमान की पहली खेप हरियाणा के अंबाला एयरबेस पर लैंड हो चुकी है। इन 5 राफेल जेट को रिसीव करने के लिए एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया अंबाला एयरबेस पर मौजूद रहे। सुरक्षा के लिहाज में अंबाला में धारा 144 लागू कर दी गई है।

इन विमानों ने आज अंबाला एयरबेस पर लैंडिंग की। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने इस ऐतिहासिक लम्हे का वीडियो शेयर किया। साथ ही उन्होंने ट्वीट किया कि “विमान अंबाला में सुरक्षित लैंडिंग कर चुके हैं। राफेल कॉम्बैट विमानों के भारत की धरती को छूते ही सैन्य इतिहास के नए युग की शुरुआत हो गई है। ये मल्टीरोल विमान की वायुसेना की क्षमताओं में क्रांतिकारी बदलाव लाएंगे। “

मेरिगनेक एयरबेस से सात घंटे से अधिक उड़ान भरने के बाद United Arab Emirates में सोमवार को अल धाफरा एयरबेस पर विमानों का जत्था उतरा था। यह फ्रांस से भारत के लिए उड़ान के दौरान एकमात्र पड़ाव था। इन विमानों के भारतीय हवाईक्षेत्र में प्रवेश करने के बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के कार्यालय ने कहा कि भारतीय वायु क्षेत्र में प्रवेश करने के बाद राफेल विमानों को दो सुखोई 30 एमकेआई ने अपने घेरे में ले लिया। 30,000 फुट की ऊंचाई पर एक फ्रांसीसी टैंकर से हवा में इन लड़ाकू विमानों में ईंधन भरा गया था।

वायु सेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया ने अंबाला में विमानों की अगवानी की। राफेल लड़ाकू विमान भारत के दो दशकों में लड़ाकू विमानों का पहली बड़ी आपूर्ति है और इनसे भारतीय वायु सेना की लड़ाकू क्षमताओं को काफी मजबूती मिलने की उम्मीद है।

Comments are closed.

Language
%d bloggers like this: