नामांकन से पहले कांग्रेस ने बदला अपना MLC उम्मीदवार

बिहार में कांग्रेस ने विधान परिषद के लिए घोषित प्रत्याशी तारिक अनवर का नाम वापस ले लिया है और उनकी जगह समीर सिंह को अपना उम्मीदवार बनाया है। समीर सिंह कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष हैं। कांग्रेस सचिव अजय कपूर ने दी जानकारी दी है। कहा जा रहा है की तारिक अनवर का नाम बिहार् में वोटर लिस्ट में न हीं है ऐसे में वे नामांकन दाखिल नहीं कर सकते हैं। विधानपरिषद चुनाव के लिए वोटर लिस्ट में नाम होना जरूरी बताया जा रहा है।

1976 में इंदिरा गांधी ने बिहार यूथ बिग्रेड का अध्यक्ष रहे तारिक अनवर पार्टी का काफी भरोसेमंद चेहरा हैं। 1988 से 1989 तक वे बिहार कांग्रेस के अध्यक्ष रहे थे। 5 बार लोकसभा सदस्य रहे। तारिक अनवर ने सोनिया गांधी के विदेशी मूल के मुद्दे पर 1999 में कांग्रेस से बगावत कर शरद पवार के साथ राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी का गठन किया था। 21 वर्ष के बाद अक्टूबर 2018 में कांग्रेस में वापसी की।

एनसीपी में रहने के दौरान भी तारिक अनवर कांग्रेस के काफी करीब माने जाते रहे। यही वजह रही कि बीते लोकसभा चुनाव में उन्हें फिर कटिहार से एमपी का टिकट दिया गया। नवजोत सिंह सिद्धू के एक बयान ने उनकी संसद की राह रोक दी थी। इसलिए कांग्रेस उन्हें बिहार विधानमंडल के उच्च सदन में भेजकर उन्हें प्रदेश की राजनीति के मेन स्ट्रीम में लाना चाह रही थी।

Comments are closed.

Language
%d bloggers like this: