इमरान खान ने पाकिस्तान को और कंगाल बना दिया

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान इन दिनों हर जगह कश्मीर का राग अलाप रहे हैं। कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने के मुद्दे पर पहले ही अलग-थलग पड़ चुके इमरान खान अब अपने देश में भी आलोचनाओं का शिकार हो रहे हैं। पाकिस्तान के हालात पर करीबी नजर डालें तो प्रतीत होता है कि इमरान खान ने गरीबी से जूझ रहे देश को और कंगाल बन दिया है। इमरान ने अगस्त 2018 में पाकिस्तान की सत्ता संभाली थी और इकॉनमिक टाइम्स में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक इसके बाद से पाकिस्तान की हालत और भी खराब हो गई है।

पाकिस्तान की इकॉनमिक ग्रोथ 5.5 फीसदी से गिरकर 3.3 फीसदी पर पहुंच गई है। पाकिस्तानी रुपये भी लगातार गिरावट आ रही है। पिछले साल अगस्त में एक अमेरिकी डॉलर के मुकाबले पाकिस्तानी रुपये की कीमत 122 रुपये थी, लेकिन अब ये 156 रुपये पर पहुंच गया है। इसमें और गिरावट दर्ज हो सकती है।

इमरान खान के पीएम बनने के बाद मंहगाई दर में भी भारी इज़ाफा हुआ है। इस साल जुलाई अप्रैल के बीच विदेशी निवेश में 51.7 फीसदी की कमी आई है। विदेशी प्राइवेट इन्वेस्टमेंट में भी 64.3 फीसदी की गिरावट आई है।

देश को चलाने के लिए पाकिस्तान लगातार कर्ज ले रहा है। मार्च 2019 तक पाकिस्तान पर 85 बिलियन डॉलर यानी भारतीय रुपये में 6 लाख करोड़ से ज़्यादा कर कर्ज है। पाकिस्तान ने पश्चिमी यूरोप और मध्य पूर्व के देशों से भारी भरकम कर्ज ले रखा है। पाकिस्तान को सबसे कर्ज चीन ने दिया है। इसके अलावा पाकिस्तान ने कई अंतरराष्ट्रीय संगठनों से भी लोन ले रखा है।

Comments are closed.

Language
%d bloggers like this: